Banner प्रभाग

लोक शिकायत (पीजी) सेल

1.विभाग के लोक शिकायत (पीजी) सेल को लोक शिकायतों के निवारण की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

2.विभाग के पीजी सेलको दो स्रोतों से शिकायतें / अभ्यावेदन प्राप्त होते हैं, अर्थात् pgportal.gov.in पर इलेक्ट्रॉनिक रूप में और डाक के माध्यम से।

3.इस विभाग के जन शिकायत की लिंक: pgportal.gov.in है।

एफसीआई,सीडब्ल्यूसी, लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली/राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम,एन एस आई,वीवीओएंड एफ, शर्करा निदेशालय से संबंधित मामलों के लिए pgportal.gov.in अर्थात् इसी साइट पर संपर्क किया जा सकता है।

4.प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग ने लोक शिकायतों से संबंधित पत्रों के निपटान के लिए निम्नलिखित समय सीमा निर्धारित की है:

i.इलेक्ट्रॉनिक माध्‍यम से प्राप्त पत्रों की पावती 3 दिन

ii.डाक द्वारा प्राप्त पत्रों की पावती 7 दिन

iii.संबंधित अधिकारी/ प्रभाग की टिप्पणियां प्राप्त करना 15 दिन

iv.शिकायत का अंतिम निपटान 60 दिन

5.प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए इस विभाग ने विभागीय स्तर पर एक संयुक्त सचिव और उप सचिव की विभाग में, और विभिन्न अधीनस्‍थ कार्यालयों / सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों अर्थात् भारतीय खाद्य निगम,केंद्रीय भंडारण निगम,प्रशासन अनुभाग और लेखा नियंत्रक कार्यालय में नोडल अधिकारी की नियुक्ति की है और संबंधित केंद्र के साथ शिकायतों का निवारण आवधिक बैठकों और निजी संपर्क माध्यम से किया जाता है।

6.इस विभाग5दायित्‍व केंद्र (आरसी) अर्थात् शर्करा निदेशालय,भारतीय खाद्य निगम,केन्‍द्रीय भंडारण निगम,राष्ट्रीय शर्करा संस्थान और वनस्‍पति, वनस्‍पति तेल और वसा निदेशालय हैं जिनके पास सीपीजीआरएएमएस लिंक उपलब्‍ध है और हम इलेक्ट्रॉनिक पद्धति से उन्हें लोक शिकायत पत्रों का हस्तांतरण करने तथा उनसे आवश्यक कार्रवाई करने का अनुरोध करने की स्थिति में हैं और हम संबंधित व्यक्ति / संगठन को की गई कार्रवाई सूचना देने और तदनुसार इस विभाग को सूचित करने का अनुरोध करते हैं।

जहां तक डाक से प्राप्त शिकायत का संबंध है, प्राप्त पत्रों की प्रतिलिपि संबंधित प्रभागों/संगठनों को तत्‍काल इस निर्देश के साथ भिजवाई जाती है कि संबंधित व्‍यक्‍ति को समुचित उत्‍तर भेजा जाए और इस विभाग को तदनुसार सूचित किया जाए।

7.जहां किसी शिकायत विशेष के बारे में संपर्क विवरण या पर्याप्त विवरण नहीं दिया जाता है, तो उक्‍त का तुरंत उनका निपटान वहीं कर दिया जाता है।

अन्य शिकायतों में जहाँ भी संपर्क विवरण उपलब्ध थे, फोन पर संबंधित से संपर्क करने और उनकी शिकायत के निवारण की स्थिति का पता लगाने के लिए प्रयास किए गए थे और अपेक्षित आवश्यक कार्रवाई की गई।

जिन मामलों में प्राप्‍त सूचना पर्याप्त नहीं थी और अतिरिक्त सूचना अपेक्षित था, ऐसे मामलों में संबंधित व्‍यक्‍ति को पत्र भेजा गया था। कई शिकायतें ऐसी हैं जो हमारे विभाग से संबंधित नहीं है,उन्‍हें इस टिप्पणी के साथ वापस किया जाता है कि मामला का संबंध इस विभाग से नहीं है और इसलिए कोई कार्रवाई अपेक्षित नहीं है।

8. इस विभाग में प्राप्त जन शिकायतों की (01अप्रैल,2016 से 30नवम्बर,2017 तक) प्रगति रिपोर्ट इस प्रकार है: -

31.03.2016 तक की कुल लंबित लोक शिकायते : 98

उपरोक्त अवधि के दौरान प्राप्त अतिरिक लोक शिकायते : 6207

कुल लोक शिकायते : 6305

कुल लोक शिकायतों का निपटारा : 6144

30.11.2017 तक लंबित कुल लोक शिकायते : 161

निपटान का प्रतिशत : 97 %

9. यह उल्लेखनीय है कि अधिकांश शिकायतें भारतीय खाद्य निगम से संबंधित है, जो ज्यादातर सेवानिवृत्ति लाभों तथा वेतन संशोधन से संबंधित है और लंबित शिकायतों के शीघ्र निपटान के लिए दैनिक आधार पर व्यक्तिगत रूप से निगरानी की जाती है।


शीर्ष पर वापस जाएँ