Banner भंडारण योजनाएं

सार्वजनिक-निजी-भागीदारी पद्धति के अंतर्गत आधुनिक साइलो का निर्माण

देश में भंडारण क्षमता के आधुनिकीकरण के उद्देश्‍य से इस विभाग ने वर्ष 2020 तक सार्वजनिक निजी भागीदारी पद्धति में चरणबद्ध तरीके से 100 लाख टन क्षमता के स्‍टील साइलो के रुप में आधुनिक भंडारण सुविधा के निर्माण के लिए एक रूपरेखा/कार्य योजना अनुमोदित की है। प्रस्‍तावित क्षमता से मौजूदा आपूर्ति श्रृंखला का यंत्रीकरण होने के साथ प्रचालनात्‍मक दक्षता में सुधार होगा।

इसका एजेंसीवार तथा चरणवार ब्‍यौरा नीचे दिया गया है:

(आंकड़े लाख टन में)

एजेंसी

फेज-I

फेज-II

फेज-III

कुल (फेज-I+II+III)

चावल साइलो

गेहूं साइलो

चावल साइलो

गेहूं साइलो

चावल साइलो

गेहूं साइलो

चावल साइलो

गेहूं साइलो

सकल जोड़
(
चावल+गेूंह)

एफसीआई

0.25

17.75

10.00

1.00

1.25

27.75

29.00

पंजाब

4.25

0.00

4.25

4.25

हरियाणा

3.00

0.00

3.00

3.00

उत्‍तर प्रदेश

3.50

3.50

0.00

7.00

7.00

दिल्‍ली

0.50

0.50

0.00

1.00

1.00

महाराष्‍ट्र

0.50

0.50

0.00

1.00

1.00

बिहार

0.25

2.25

2.00

0.25

4.25

4.50

मध्‍य प्रदेश

0.00

0.00

0.00

0.00

गुजरात

1.00

0.00

1.00

1.00

पश्‍चिम बंगाल

2.00

2.00

0.00

4.00

4.00

असम

0.50

0.00

0.50

0.50

कर्नाटक

0.25

0.00

0.25

0.25

राजस्‍थान

1.50

0.00

1.50

1.50

छत्‍तीसगढ़

1.00

1.00

0.00

1.00

राज्‍य सरकार/एजेंसी

0.00

17.75

0.00

17.50

7.50

25.75

7.50

61.00

68.50

पंजाब

12.25

7.00

5.00

0.00

24.25

24.25

हरियाणा

2.00

4.50

0.00

6.50

6.50

उत्‍तर प्रदेश

5.00

0.00

5.00

5.00

महाराष्‍ट्र

0.50

0.00

0.50

0.50

बिहार

5.00

0.00

5.00

5.00

मध्‍य प्रदेश

5.00

5.00

0.00

10.00

10.00

गुजरात

2.00

0.00

2.00

2.00

पश्‍चिम बंगाल

0.50

3.00

0.50

3.00

3.50

राजस्‍थान

3.50

1.25

0.00

4.75

4.75

आन्‍ध्र प्रदेश

3.50

3.50

0.00

3.50

तेलंगाना





1.50


1.50

0.00

1.50

उड़ीसा

2.00

2.00

0.00

2.00

सीडब्‍ल्‍यूसी

0.00

0.50

0.00

1.50

0.00

0.50

0.00

2.50

2.50

पंजाब

0.00

0.50

0.00

1.50

0.00

0.50

0.00

2.50

2.50

कुल

0.25

36.00

0.00

29.00

8.50

26.25

8.75

91.25

100.00

इस रूपरेखा के अंतर्गत चरणवार प्रगति का ब्‍यौरा नीचे दिया गया है (दिनांक 18.05.2018 तक):

फेज-I (2016-17):

एजेंसी

लक्ष् (लाख टन में)

उपलब्धि

रद्द की गयी संविदाएँ

पुनः आमंत्रित की गयी संविदाएँ (अंतिम रूप दिया जाना है)

साइलो आपरेटर का चयन

(लाख टन में)

स्थानों की संख्या

साइलों का कार्य पूरा हुआ (लाख टन में)

स्थानों की संख्या

क्षमता (लाख टन में)

स्थानों की संख्या

क्षमता (लाख टन में)

स्थानों की संख्या

एफसीआई

18.00

16.00

32

0.25

1

0.75

2

0.50

1

सीडब्लयूसी

0.50


राज् सरकारें

पंजाब

12.25

17.00

31

1.50

3

मध् प्रदेश

5.00

4.50

9

4.50

9

महाराष्ट्र

0.50

-

-

कुल

36.25

37.50

72

6.25

13

0.75*

2

0.50

1

*उच स्तरीय कमेटी द्वारा यह निर्णय लिया गया है की Whitefield (कर्नाटक) में 0.25 लाख टन क्षमता के लिए पुनः संविदाएँ आमंत्रित नहीं की जाएंगी.

फेज-II (2017-18):

एजेंसी

लक्ष्‍य (लाख टन में)

उपलब्‍धि

निविदाएँ आमंत्रित की गयी परंतु अंतिम रूप दिया जाना है

निर्धारित स्थान

साइलों आपरेटर का चयन (लाख टन में)

स्‍थानों की संख्‍या

साइलो का कार्य पूरा किया गया (लाख टन में)

स्‍थानों की संख्‍या

क्षमता (लाख टन में)

स्‍थानों की संख्‍या

क्षमता (लाख टन में)

स्‍थानों की संख्‍या

एफसीआई

10.00

6.50

12

5.00

10

2.00

3

सीडब्‍ल्‍यूसी

1.50

0.50

1

राज्‍य सरकारें

पंजाब

7.00

1.00

1

हरियाणा

2.00

4.50

7

बिहार

5.00

राजस्‍थान

3.50

कुल

29.00

6.50

12

5.50

11

7.50

11

फेज-III (2018-19):

भारतीय खाद्य निगम मै. प्राइस वॉटरहाउस कूपर्स द्वारा किए गए भंडारण आंकलन के आधार पर कार्यवाही करेगी। चावल साइलोज की निर्माण 0.50 -0.50 लाख टन क्षमता वाली पायलट परियोजन के परिणाम पर निर्भर करेगा जो भारतीय खाद्य निगम द्वारा कैमूर और बक्सर (बिहार) में किया जा रहा है।

*****


शीर्ष पर वापस जाएँ