Banner भंडारण योजनाएं

भंडारण गोदामों के निर्माण के लिए सेंट्रल सैक्टर स्‍कीम

यह विभाग पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में क्षमता बढ़ाने पर विशेष ध्‍यान केंद्रित करने के साथ गोदमों के निर्माण के लिए केन्‍द्रीय क्षेत्र की स्‍कीम कार्यान्‍वित कर रहा है। यह स्‍कीम कुछ अन्‍य राज्‍यों जैसे हिमाचल प्रदेश तथा केरल में भी प्रचालित की जा रही है। भारतीय खाद्य निगम को भूमि अधिग्रहित करने तथा भंडारण गोदामों के निर्माण एवं संबंधित आधारभूत संरचनाओं जैसे रेलवे साइडिंग, विद्युतिकरण, धर्मकांटा लगाने आदि के लिए इक्‍विटी के रुप में निधियां जारी की जाती हैं।

यह स्‍कीम अगले तीन वर्षों अर्थात 2017-18 से 2019-20 तक जारी रहेगी। इस संबंध में प्रस्‍तावित भौतिक एवं निर्मित क्षमता नीचे दि गयी हैं:-

एजेंसी

राज्‍य

2017-20 तक बनाई जाने वाली क्षमता (टन में)

नवम्बर 2017, तक निर्मित क्षमता (टन में)

एफसीआई

असम

42,500

अरुणाचल प्रदेश.

6,130

मणिपुर

25,000

मेघालय

7,500

मिजोरम

10,000

नागालैंड

4,590

4590

सिक्‍किम

3,500

त्रिपुरा

20,000

कुल (पूर्वोत्तर)

1,19,220

4,590

हिमाचल प्रदेश

11,220

केरल

15,000

झारखंड

65,000

कुल अन्य

91,220

कुल (पूर्वोत्तर + अन्य)

2,10,440

4,590

§भारतीय खाद्य निगम को पूर्वोत्तर क्षेत्र हेतु (दिनांक 31.12.2017 तक) 12.17 करोड़ रूपय की इक्विटी जारी की गयी है।

*****


शीर्ष पर वापस जाएँ